PM Kanya Sumangala Yojana :- आज के इस पोस्ट में आप जानेंगे कन्या सुमंगला योजना क्या हैं। कैसे आप मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजन का लाभ ले सकते हैं और कौन-कौन से व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। और  किस तरह से आप कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

kanya sumangala yojana

इस पोस्ट में आप जानेंगे?

  1. कन्या सुमंगला योजना क्या हैं?
  2. योजना का लाभ कौन-कौन से व्यक्ति ले सकते हैं?
  3. योजन का पैसा कब और कैसे मिलता हैं?
  4. कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन कैसे करें?
  5. आवेदन करने के लिए जरुरी दस्तावेज़?

कन्या सुमंगला योजना क्या हैं?

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana का मुख्य उद्देश्य कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करना, बाल विवाह की कुप्रथा को रोकना, बालिकाओं के स्वास्थ्य और शिक्षा को प्रोत्साहन करना, बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनाना, बालिकाओं के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित करना शामिल हैं। कन्या सुमंगला योजना की शुरुआत 01/04/2019 से हुई हैं। 


योजना का लाभ कौन-कौन से व्यक्ति ले सकते हैं?

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए। 
  • व्यक्ति के पास स्थायी निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए। जैसे की :- राशन कार्ड, आधार कार्ड, पहचान पत्र, बिजली बिल, टेलीफोन का बिल इत्यादि।
  • लाभार्थी की पारिवारिक वार्षिक आय अधिकतम रु0 3 लाख हो। 
  • किसी परिवार की दो ही बालिकाओं को योजना का लाभ मिलेगा।
  • परिवार में आदिकतम दो बच्चे हो। 
  • किसी परिवार को दूसरे प्रशव से जुड़वा बच्चा होने पर तीसरे संतान के रूप में लड़की को लाभ दिया जाएगा। यदि किसी परिवार को पहले प्रशव से बालिका हैं। और दूसरे प्रशव से जुड़वा बालिका ही होती हैं तो केवल ऐसी अवस्था में ही तीनो बालिकाओं को लाभ दिया जाएगा।
  • यदि किसी परिवार ने अनाथ बालिका को गोद लिया हो, तो परिवार की जैविक संतानो तथा विधिक रूप में गोद ली गयी संतानो को सम्मिलित करते हुये अधिकतम दो बालिकायें इस योजना की लाभार्थी होगी।

योजन का पैसा कब और कैसे मिलता हैं?

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 6 श्रेणियों में निम्नवत लागु होती हैं। 

  • प्रथम श्रेणी :- नवजात बालिकाओं जिनका जन्म 01/04/2019  या उसके पश्चात् हो, को रु0  2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा। 

  • द्वितीय श्रेणी :- वह बालिकायें सम्मिलित होगी जिनका एक वर्ष के भीतर सम्पूर्ण टीकाकरण हो चुका हो तथा उनका जन्म 01/04/2018 से पूर्व न हुआ हो, को रु0 1000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा।

  • तृतीय श्रेणी :- वह बालिकायें सम्मिलित होगी जिन्होंने जालु शैक्षणिक शत्र के दौरान प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया हो, को रु0  2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा।

  • चतुर्थ श्रेणी :- वह बालिकायें सम्मिलित होगी जिन्होंने जालु शैक्षणिक शत्र के दौरान छठी कक्षा में प्रवेश लिया हो, को रु0  2000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा।

  • पंचम श्रेणी :- वह बालिकायें सम्मिलित होगी जिन्होंने जालु शैक्षणिक शत्र के दौरान नवीं कक्षा में प्रवेश लिया हो, को रु0 3000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा।

  • षष्ठम् श्रेणी :- वह बालिकायें सम्मिलित होगी जिन्होंने 10वीं/12वीं कक्षा उत्तीर्ण करके जालु शैक्षणिक शत्र के दौरान स्नातक-डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा प्रोग्राम में प्रवेश लिया हो, को रु0 5000 एक मुश्त धनराशि से लाभान्वित किया जाएगा।

कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

कन्या सुमंगला योजना के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से अप्लाई कर सकते हैं। प्राथमिक रूप में आवेदन ऑनलाइन ऑनलाइन माध्यम से स्वीकार किये जाएंगे।ऑनलाइन आवेदन कॉमन सर्विस सेंटर से,साइबर कैफ़े से या मोबाइल /कंप्यूटर से भरे जा सकते हैं  और जो ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकते हैं वे अपने आवेदन ऑफलाइन माध्यम से  भी खण्ड विकास अधिकारी/उपजिलाधिकारी/जिला परिवीक्षा अधिकारी/उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी के कार्यालय में जमा कर सकते हैं। आवेदन पत्र का प्रारूप विभागीय वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। 


आवेदन करने के लिए जरुरी दस्तावेज़?

  1. बैंक खाते की पासबुक की फोटो कॉपी। (माता या पिता या बालिका के नाम से)
  2. निवास प्रमाण पत्र :- राशन कार्ड, आधार कार्ड, पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, गैस कनेक्शन बुक, बिजली बिल, पानी बिल, टेलीफोन बिल, या बैंक पासबुक में से कोई एक। 
  3. फोटो पहचान पत्र :- आधार कार्ड, पैन कार्ड , पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट में से कोई एक। 
  4. परिवार के वार्षिक आय से सम्बंधित स्व-सत्यापन।
  5. निर्धारित प्रारूप पर शपथ पत्र।
  6. बालिका का नवीनतम फोटो। 
  7. आवेदक व बालिका का संयुक्त नवीनतम फोटो। 
  8. विधिक रूप से गोद लेने वाले का प्रमाण पत्र। (अदि आगू हो)
  9. एफिडेविट सर्टिफिकेट। 
  10. जन्म प्रमाण पत्र। (प्रथम श्रेणी में)
  11. एडमिशन सर्टिफिकेट। (प्रथम क्लास का तृतीय श्रेणी में)
  12. एडमिशन सर्टिफिकेट। (छठी क्लास का चतुर्थ श्रेणी में)
  13. एडमिशन सर्टिफिकेट। (9वीं क्लास का पंचम श्रेणी में)
  14. Admission fee receipt in Degree/Diploma course. (षष्ठम् श्रेणी में)
  15. 10th/12th Certificate/Mark sheet. (षष्ठम् श्रेणी में)
pm kanya sumangala yojana


आप कन्या सुमंगल योजना के लिए ऑफलाइन अप्लाई करें या ऑनलाइन जब ये एप्रूव्ड कर दिया जाएगा तो इस योजना के लिए आप का आवेदन हो जाएगा। 
तो ये सभी जीचें अच्छे से पढ़ने के बाद आप को अच्छे से पता चल गया होगा की कन्या सुमंगला योजना क्या हैं। अगर आप को कुछ ना समझ आया हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

Post a Comment

और नया पुराने